Success Stroy : लैब अटेंडेंट की बेटी बनी पंचायत राज अधिकारी, इस तरह की पढ़ाई, पढ़े पूरी कहानी

घर की बेटी जब अफसर बनती है तो उस घर की रौनक ही अलग होती है. आज हम बात कर रहे हैं एक ऐसी ही बेटी की जिनके पिता लैब अटेंडेंट हैं और बेटी अफसर गई है.

 
UPPSC PCS 2021

HR Jobs Alert, New Delhi : घर की बेटी जब अफसर बनती है तो उस घर की रौनक ही अलग होती है. आज हम बात कर रहे हैं एक ऐसी ही बेटी की जिनके पिता लैब अटेंडेंट हैं और बेटी अफसर गई है.

हम बात कर रहे हैं झांसी की रहने वाली कामनी की, जिन्होंने यूपी पीसीएस परीक्षा पास की है. कामनी को अब मेरठ में जिला पंचायत राज अधिकारी का पद मिलेगा. कामनी ने ये परीक्षा दूसरी बार पास की है. उन्होंने 2017 में भी ये एग्जाम पास की थी, तब उन्होंने जालौन में जिला सेवायोजन अधिकारी के तौर पर जॉइनिंग की थी.

कामयाबी तो दुनिया में बहुत से लोग पाते हैं, लेकिन जो बच्चा अपने माता-पिता के प्रोफेशनल ओहदे से ऊंचा ओहदा पाता है, उसकी कामयाबी की खुशी ही अलग होती है. कामनी के पिता मेडिकल कॉलेज में लैब अटेंडेंट थे और मां हाउस वाइफ हैं. कामनी अपने भाई-बहनों में सबसे बड़ी हैं. उनका छोटा भाई उत्तर प्रदेश पुलिस में सिपाही हैं. छोटी बहन फिलहाल पढ़ाई कर रही हैं.

कामनी की शुरुआती शिक्षा झांसी के ज्ञान स्थली पब्लिक स्कूल से हुई. फिर झांसी से ही कंप्यूटर साइंस में बीटेक और बीआईईटी किया है. उत्तर प्रदेश लोक सेवा आयोग (UPPSC) ने 678 पदों लिए रिजल्ट जारी की थी.

जिसमें कुल 627 उम्मीदवार सफल घोषित किए गए है. इस रिजल्ट में टॉप 10 में दो लड़कियों ने जगह बनाई है. कट-ऑफ अंक आयोग की आधिकारिक वेबसाइट जल्द जारी किए जाएंगे. 

आपको बता दें कि कामिनी गौतम मेरठ में ही राज्य कर अधिकारी के तौर पर काम कर रही हैं और अब यूपी-पीसीएस की 2021 की मुख्य परीक्षा में सफल होकर अब जिला पंचायती राज्य अधिकारी बन गई हैं.

राज्य कर अधिकारी के तौर पर वह 2018 से कार्यरत हैं. कामिनी की शुरुआती शिक्षा ज्ञान स्थली पब्लिक स्कूल झांसी और स्नातक में बीटेक कंप्यूटर साइंस बीआइईटी झांसी से ही की.