Success Story: स्टेशन पर करता था कुली का काम, आज है IAS, जानें पूरी कहानी

श्रीनाथ आज अपनी मेहनत की वजह से UPSC की परिक्षा पास करली और आज एक आईएएस ऑफिसर है। इनके पास पूरे संसाधन नही थे फिर भी अपने सपने के आगे आने वाली हर आपदा को पार कर सफलता को हासिल कर ही लिया।  
 
ias shreenath

Newz Fast, Success Story: कहते है अहर हम अपने मन में कोई बात ठान लें और उसे पाने के लिए अपनी पूरी मेहनत लगा दें तो हम आखिर में उसे हासिल कर ही लेतें है।

आज हम जिस इंसान के बारे में बात करने वाले है उसने अपनी मेहनत के बलबूते पर खुद के सपने को पूरा कर लोगों को IAS  ऑफिसर बनकर दिखाया। 

श्रीनाथ एर्नाकुलम स्टेशन पर कुली का काम करते थे। उन्होने अपनी किस्मत को आजमाने का सोचा और आज हर इंसान के लिए एक मिसाल बन चुके है। आइए जानते है श्रीनाथ की पूरी कहानी। 

बिना कोचिंग क्रैक की UPSC और KPSC

देश भर में लाखों उम्‍मीदवार यूपीएससी की परीक्षा देते हैं। हालांकि, उनमें से कुछ प्रतिशत छात्र ही इस परीक्षा को क्रैक कर पाते हैं और ऑफिसर का पद का हासिल कर पाते हैं। 

श्रीनाथ जैसे कुछ अभ्यर्थी होते हैं, जो यूपीएससी की कोचिंग सेल्फ स्टडी के जरिए ही पास करने का प्रयास करते हैं। आपको बता दें कि श्रीनाथ मूलरूप से केरल के एर्नाकुलम के रहने वाले हैं। वे एर्नाकुलम रेलवे स्टेशन पर ही कुली का काम भी किया करते थे।

रेलवे WiFi आया काम 

श्रीनाथ के पास इतने पैसे नहीं थे कि वे यूपीएससी की तैयारी के लिए किसी भी कोचिंग सेंटर की फीस दे सकें। ऐसे में उनके मन में ये बात आई कि वे बिना कोचिंग के इस कठिन परीक्षा को पास नहीं कर पाएंगे। 

यही कारण था कि उन्होंने सबसे पहले केरल लोक सेवा आयोग परीक्षा देने का मन बनाया। उनकी इस कठिन राह को रेलवे स्टेशन पर लगे फ्री वाई-फाई ने आसान बना दिया। उन्होंने स्टेशन पर लगे फ्री वाई-फाई से पढ़ाई शुरू कर दी। 

IAS बन सपना किया साकार 

इसके बाद उन्होंने यूपीएससी परीक्षा की तैयारी शुरू कर दी और साथ ही केरल लोक सेवा आयोग की परीक्षा भी पास कर ली। आपको बता दें कि उन्‍होंने बिना किसी कोचिंग के यूपीएससी की परीक्षा पास कर एक मिसाल कायम कर दी है।