झारखंड: मेडिकल छोड़ की UPSC की तैयारी, पढ़िए इस महिला Topper की स्टोरी

Apala Mishra पहले मेडिकल की तैयारी करती थी। बाग में इन्होने अपने आईएएस बनने के सपने को पूरा करने के लिए अपनी मेडिकल की तैयारी को छोड़ दिया और आज अपनी मेहनत के बलबूते पर UPSC Topper है। 
 
ias apala mishra

Newz Fast, Success Story: संघ लोक सेवा आयोग की परिक्षा को पासकर पाना बेहद मुश्किल होता है। हर साल लाखों लोग IAS बनने का सपना देखते है और अपने इसी सपने को पूरा करने के लिए वे बहुत मेहनत करते है और UPSC की परिक्षा में हिस्सा लेते है। 

लेकिन हर किसी की किस्मत साथ नही देती और वे अपना IAS नने का सपना पूरा नही कर पाते आज हम आपके लिए एक महिला आईएएस की कहानी लेकर आए है । 

जिन्होने अपनी मेहनत से UPSC की परिक्षा को पास कर दिखाया, हालाकिं यह सफलता उन्हे तीसरे प्रयास में हासिल हुई। आइए जानते है झारखंड की रहने वाली महिला UPSC Topper IAS Apala Mishra के बारे में। 

सैनिक परिवार से रखती हैं संबंध

डॉक्टर अपाला मिश्रा का जन्म साल 1997 में हुआ था। वो मूल रूप से झारखंड के धनबाद की रहने वाली हैं। हालांकि उनका जन्म उत्तर प्रदेश के गाजियाबाद में हुआ था। 

अपाला मिश्रा सैनिक परिवार से संबंध रखती हैं। इनके पिता का नाम अमिताभ मिश्रा है। वे सेना में कर्नल की पोस्ट पर हैं। इसके अलावा अपाला की मां डॉ अल्पना मिश्रा दिल्ली विश्वविद्यालय के नॉर्थ कैंपस में हिंदी डिपार्टमेंट में प्रोफेसर हैं। वहीं अपाला के भाई अभिलेख मिश्रा भी आर्मी में मेजर हैं। 

डेंटिस्ट की पढ़ाई छोड़ शुरू की यीपीएससी की तैयारी

अपाला बचपन से ही पढ़ाई में बेहद होनहार छात्रा रही हैं। उनकी 10वीं तक की पढ़ाई देहरादून में पूरी हुई है। उसके बाद उन्होंने अपनी प्लस टू की पढ़ाई रोहिणी दिल्ली से पूरी की है। 

अपाला ने आर्मी कॉलेज से बीडीएस की पढ़ाई की थी। जिसके बाद उन्होंने डेंटिस्ट की डिग्री हासिल की थी। अपाला हमेशा से समाज और लोगों के लिए काम करना चाहती थी। वह लोगों की सेवा करना चाहती थी। जिसके कारण अपाला ने आईएएस ऑफिसर बनने का फैसला किया। 

2018 में हुई थी असफल

उन्होंने अपने सपने को पूरा करने के लिए मेडिकल की प्रैक्टिस छोड़ कर यूपीएससी की तैयारी शुरू की। जिसके बाद अपाला ने साल 2018 में पहली बार यूपीएससी की परीक्षा दी। हालांकि वह पहले प्रयास में असफल रही। उसके बाद भी उन्होंने हार नहीं मानी, उन्होंने अपना प्रयास जारी रखा। 

चीजों को किया एनालाइज

यूपीएससी की परीक्षा को पास करने के लिए अपाला ने कोचिंग क्लासेज शुरू की और साथ ही सेल्फ स्टडी की। अपाला ने दिए एक इंटरव्यू में बताया था कि उन्होंने साल 2018 में खुद को एनालाइज किया। 

अपनी कमियों और अपनी स्ट्रेंथ को जांचा, ताकि वह यूपीएससी की परीक्षा में सफल हो सके। उन्होंने बताया कि यूपीएससी के पैटर्न को समझने में समय लगा। हालांकि जब चीजें समझ आई तो वे बेहतर हुई। 

7 से 8 घंटे करती थी पढ़ाई

अपाला ने बताया कि यूपीएससी की तैयारी के लिए वह लगभग 7 से 8 घंटे हर रोज पढ़ाई किया करती थी। उन्होंने तीसरे प्रयास में यूपीएससी की परीक्षा पास की। 

साथ ही टॉप 10 में अपनी जगह बनाई। साल 2020 में अपाला मिश्रा ने ऑल इंडिया 9वीं  रैंक हासिल की। इसके बाद उन्होंने इंटरव्यू राउंड में भी सबसे अधिक अंक हासिल किए। 

इंटरव्यू में तोड़ा रिकॉर्ड

अपाला ने बताया कि इंटरव्यू राउंड में उन्होंने सभी उम्मीदवारों से अधिक अंक हासिल कर रिकॉर्ड तोड़ दिया। अपाला ने इंटरव्यू राउंड में 215 सबसे अधिक अंक हासिल किए थे। 

इंस्टाग्राम पर रहती हैं एक्टिव

वहीं, बात करें अपाला की सोशल लाइफ की तो, वह इंस्टाग्राम पर काफी एक्टिव रहती हैं। हाल ही में उन्होंने देश के पीएम नरेंद्र मोदी से मुलाकात की तस्वीरें शेयर की थी।

साथ ही कुछ दिनों पहले उन्होंने दिल्ली विश्वविद्यालय के हंसराज कॉलेज की तस्वीरें भी शेयर की हैं। जहां पर वह स्टूडेंट्स के सामने अपने विचार रख रही हैं। अपाला देश की खूबसूरत आईएएस ऑफिसर में से एक हैं। जिन्होंने अपनी मेहनत से ये मुकाम हासिल किया है।