IPS Success Story: IPS बनने के लिए छोड़ी CRPF की नौकरी, जानें तनु श्री की कहानी

तनुश्री जमुई की रहने वाली है। तनुश्री के पिता झाझा के रिटार्यड DIG है। तनुश्री ने अपने IPS के सपने को पूरा करने के लिए इनकम टैक्स की नौकरी और सीआरपीएफ की नौकरी तक छोड़ दी। 
 
IPS  TANUSHREE

Newz Fast, Success Story: हर कोई युवा ये सपना देखता है कि वह खुद के एक पुलिस अधिकारी की वर्दी में देखें। अने घरवालों का नाम रोशन करें लेकिन सबका ये सपना पूरा नही हो पाता। 

कुछ लोग अपने इस सपने को पूरा करने के लिए कई मुश्किलों का सामना करते है , लेकिन जमुई की रहने वाली तनुश्री ने अपने आईपीएस बनने के सपने को पूरा करने के लिए अपनी सीआरपीएफ की नौकरी और इनकम टैक्स की नौकरी तक को छोड़ दिया।

तनुश्री ने अपनी मेहनत से यूपीएससी की परिक्षा को पास किया और आज वे एक आईपीएस ऑफिसर है। आइए आज हम तनुश्री के सफर के बारे में जानते है। 

ऐसा रहा तनु श्री का सफर 

सबसे पहले तनु श्री ने साल 2014 में आरपीएफ में असिस्टेंट कमाडेंट बनी। इसके बाद उन्होंने आयकर विभाग की परीक्षा में सफलता हासिल की, लेकिन तनु श्री ने आयकर विभाग में अपना योगदान नहीं दिया। 

उन्होंने यूपीएससी की तैयारी शुरू कर दी। साल 2016 में उन्होंने परीक्षा दी। मई 2017 में रिजल्ट आया। तनु श्री को आइपीएस कैडर मिल गया। परिवार में खुशी की लहर दौड़ पड़ी। इसके बाद वह पुलिस अकादमी हैदराबाद में ट्रेनिंग के गईं।

उसका कहना है कि माता-पिता से ही उन्हें मार्गदर्शन मिला। तनु श्री की शादी 2015 में हुई थी। घर का काम-काज संभालते हुए तनु श्री ने यह सफलता पाई। 

वैसे पिता सुबोध कुमार और मां नीलम प्रसाद तनु श्री की सफलता से संतुष्ट हैं। तनु श्री ने अपनी प्रारंभिक शिक्षा मोतिहारी से शुरू की थी। इसके बाद जहां भी उसके पिता का ट्रांसफर हुआ वहीं जाकर अलग-अलग शैक्षणिक संस्थानों में पढ़ाई की। 

तनु श्री ने बताया कि प्लस टू की पढ़ाई बोकारो के डीजीपीएस से की थी। बाद में प्रतियोगी परीक्षा की तैयारी के लिए दिल्ली गईं। दिल्ली में कोचिंग के अलावा अपने सेल्फ स्डकी कर कड़ी मेहनत की। 

बड़ी बहन मनु श्री सीआरपीएफ की कमांडेंट है। तनू का कहना है कि बड़ी बहन ने भी उन्हें प्रोत्साहित किया। जिसके कारण वह सफल हुई हैं।