IAS Story: महज 6 दिन ही DM रहे ये UPSC टॉपर, परिक्षा में हासिल किया था सैकेंड रैंक

श्रीराम वेंकटरमण केरल के रहने वाले है। श्रीराम के दोस्त ने उन्हें सलाह दी थी की वे UPSC की परिक्षा पास करलें और IAS बन जाए। अपने दोस्त की सलाह पर उन्होने UPSC पास कर लिया लेकिन 6 दिन तक ही DM रह पाए 
 
shree ram

Newz Fast, Success Story: हर  साल लाखों लोग IAS बनने का सपना देखते है और UPSC की परिक्षा में भाग लेते है। ऐसे ही DM बनना भी एक सपना होता है, लोकिन अपने इस सपने को हर कोई पूरा नही कर पाता है। 

आज की कहानी एक ऐसे इंसान के बारें में है जिसने अपने दोस्त की सलाह पर UPSC की परिक्षा पास करने का सोचा और उन्होने परिक्षा पास भी की साथ ही परिक्षआ पास कर सैकेंड रैंक हासिल कर इस परिक्षा के टॉपर भी रहे,

लेकिन अपनी एक गलती की वजह से वे महज 6 दिन तक ही DM रह पाए। श्रीराम वेंकटरमण ने दूसरे अटेंप्ट में UPSC की परीक्षा पास की थी। उनकी सेकंड रैंक आई थी। 

श्रीराम की साल 2013 मे केरल मे पोस्टिंग हुई थी। 2015 में श्रीराम को उपभोक्ता मामले मे ‘ खाद्य और सार्वजनिक वितरण मंत्रालय में सहायक सचिव’ और ‘खाद्य और सार्वजनिक वितरण उपभोक्ता मामले’ के रूप में नियुक्त किया गया था।

श्रीराम को पढ़ना, फिल्में देखना, ट्रेवल करना और फोटोग्राफी करना बहुत पसंद है। श्रीराम एक प्लेयर भी हैं। उन्हे बास्केटबॉल और क्रिकेट खेलना बहुत पसंद है। 

ग्रेजुएशन करने के बाद श्रीराम का एक दोस्त लखमी ने UPSC परीक्षाओं के लिए प्रयास करने के लिए कहा था। श्रीराम के दोस्त लखमी ने कहा कि अगर श्रीराम IAS अधिकारी बन जाता है,

तो वह अपनी मेडिकल नॉलेज का अच्छा उपयोग कर पाएगा। श्रीराम ने उनके दोस्त के सुझाव बारे में विचार किया और आखिर में UPSC की तैयारी करने का फैसला किया।

IAS श्रीराम वेंकिटरमण को अलपुझा जिला कलेक्टर बनाए जाने को लेकर जमकर प्रदर्शन हुआ था। इसके बाद केरल सरकार को अपना फैसला बदलना पड़ा है। 

आरोप है कि IAS श्रीराम वेंकिटरमण ने नशे में गाड़ी से पत्रकार को टक्कर मार दी थी। एक्सीडेंट में पत्रकार  की मौत हो गई थी। 3 अगस्त 2019 को हुई इस घटना में IAS श्रीराम वेंकिटरमण को मुख्य आरोपी बनाया गया था।

 IAS को इसके बाद केरल स्टेट सिविल सप्लाईज कॉरपोरेशन लिमिटेड का जनरल मैनेजर बनाया गया।